Posted on Dec. 24, 2020, 8:08 a.m.

गेहूँ की फसल में वृद्धि एवं फुटाव के लिए जरुरी उर्वरक!

गेहूँ की फसल इस समय वृद्धि विकास की अवस्था में है। गेहूँ की फसल से अधिक तथा गुणवत्ता से भरपूर अच्छा उत्पादन प्राप्त करने हेतु गेहूँ के पौधों में उनकी वृद्धि के साथ ही उनमे सही वक्त पर सही मात्रा में खाद एवं उर्वरकों का उपयोग करना चाहिए। गेहूँ के पौधों की बढ़वार हेतु वानस्पतिक अवस्था में पानी में घुलने वाले उर्वरक 19:19:19 @ 75 ग्राम तथा सूक्ष्म पोषक तत्व @15 ग्राम प्रति पंप इसका छिड़काव करें। इसके साथ ही मिट्टी में tecno जेड (सल्फ़र 67% + जिंक 14%) 4 kg प्रति एक एकड़ में दें इससे गेहूँ के पौधों की वृद्धि एवं विकास के साथ इसका फुटाव भी अच्छा होगा। साथ ही यदि आपकी फसल अभी लगभग 60 दिनों के अंदर की है तो इसमें ह्यूमिक एसिड 95% @ 250 ग्राम सिंचाई के पूर्व यूरिया के साथ मिलाकर दें।
Essential fertilizer for wheat crop growth and erosion!
The wheat crop is currently in a state of growth and development. Along with their growth in wheat plants, the right amount of fertilizers and fertilizers should be used at the right time to get a better production than wheat crop and full of quality.
Spraying of water soluble fertilizer 19:19:19 @ 75 g and micronutrient @ 15 g per pump for vegetative growth of wheat plants. Along with this, give tecno jade (sulfur 67% + zinc 14%) in the soil at 4 kg per acre. This will increase its growth and development of wheat plants as well as its erosion.
Also, if your crop is still within about 60 days, then add humic acid 95% @ 250g with urea before irrigation.


This website belongs to farming and farming machinary. Created and Managed by khetiwadi development team. Content owned and updated by khetiwadi.
Copyright © 2020 KHETIWADI. All Rights Reserved.