ट्रैक्टरों में डीज़ल की बचत करने का तरीका


Posted on May 10, 2020, 5:07 p.m.


How-to-save-diesel-in-tractors

ट्रैक्टरों में डीज़ल की बचत करने का तरीका

अगर आपके पास ट्रैक्टर है और वो डीज़ल की ज़्यादा खपत करता है तो इस पोस्ट को पूरा पड़े 

जब भी रूकें, तो इंजन बंद कर दें। बिना काम के इंजन चालू रहने से प्रति घंटा एक लीटर से भी ज्यादा डीज़ल व्यर्थ जाता है।

ईंधन पंप, ईंधन टैंक, ईंधन लाइनों और ईंधन इंजैक्टर की अच्छी तरह से जांच करें कि कहीं रिसाव तो नहीं हो रहा है। प्रति सेकंड एक बूंद रिसाव होने से वार्षिक 2000 लीटर डीज़ल बर्बाद होता है।

• फिसलने वाले पहिए डीज़ल बर्बाद करते हैं पहिए की फिसलन को कम से कम रखने के लिए पानी का अतिरिक्त भार या सही मात्रा में वजन डालें।

• अगर आपका ट्रैक्टर धुआं छोड़ता है तो उसमें ईंधन की खपत ज्यादा होती है, उसकी अच्छी तरह से  सर्विस करने की जरूरत है। ट्रैक्टर के नोजलों की जांच करें और ईंधन इंजैक्शन पंप की पुन: जांच करें।

• ट्रैक्टर के इंजन की हॉर्स पावर के अनुसार ही कृषि उपकरणो का चुनाव करें और ट्रैक्टर की प्रचालन गति के अनुसार उसका मेल बैठा लें।

• ट्रैक्टर के टायरों को सही समय पर रीलग कर लें। घिसे हुए टायर ट्रैक्टर की खींचने की शक्ति को कम करते हैं।

लंबी दूरी तक सीधे हल चलायें और ट्रैक्टर बिना वजह और उलटा ना चलायें और अचानक मोड़ लेना बंद करें।

• ट्रैक्टर का उचित रख-रखाव करें।



This website belongs to farming and farming machinary. Created and Managed by khetiwadi development team. Content owned and updated by khetiwadi.
Copyright © 2020 KHETIWADI. All Rights Reserved.