मल्चिंग तकनीक से खेती करने का फायदा

/media/tips/images/mulching-technique.jpeg

मल्चिंग एक कृषि तकनीक है जिसमें मिट्टी के स्वास्थ्य और फसल उत्पादकता में सुधार के लिए जैविक या अकार्बनिक सामग्री की एक परत के साथ मिट्टी को कवर करना शामिल है। यहां गीली घास के साथ खेती के कुछ लाभ दिए गए हैं:

1. मृदा संरक्षण: मल्चिंग मिट्टी की सतह पर बारिश की बूंदों के प्रभाव को कम करके मिट्टी के क्षरण को रोकने में मदद करता है। यह मिट्टी में नमी बनाए रखने में भी मदद करता है, जो कम वर्षा वाले क्षेत्रों में विशेष रूप से महत्वपूर्ण है।

2. खरपतवार नियंत्रण: मल्चिंग सूर्य के प्रकाश को मिट्टी की सतह तक पहुंचने से रोककर खरपतवार के विकास को दबाने में मदद करता है। यह जड़ी-बूटियों और मैनुअल निराई की आवश्यकता को कम करता है, जिससे समय और धन की बचत हो सकती है।

3. मिट्टी की उर्वरता: जैविक गीली घास जैसे फसल अवशेष, पत्तियां और घास की कतरन समय के साथ टूट जाती हैं, मिट्टी में पोषक तत्व जोड़ती हैं और मिट्टी की उर्वरता में सुधार करती हैं। इससे सिंथेटिक उर्वरकों की आवश्यकता कम हो सकती है, जो पर्यावरण के लिए महंगी और हानिकारक हो सकती है।

4. कीट नियंत्रण: कुछ प्रकार की गीली घास, जैसे कि पुआल और घास, फसल कीटों का शिकार करने वाले लाभकारी कीटों के लिए निवास स्थान प्रदान कर सकते हैं। यह कीटनाशकों की आवश्यकता को कम कर सकता है, जो पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य दोनों के लिए हानिकारक हो सकता है।

5. तापमान विनियमन: मल्चिंग मिट्टी को अत्यधिक गर्मी या ठंड से बचाकर मिट्टी के तापमान को विनियमित करने में मदद करता है। यह फसलों को तापमान तनाव से बचाने और फसल की पैदावार में सुधार करने में मदद कर सकता है।

कुल मिलाकर, मल्चिंग के साथ खेती मिट्टी के स्वास्थ्य में सुधार, इनपुट लागत को कम करने और फसल उत्पादकता बढ़ाने में मदद कर सकती है।

Analyze Mandi Bhav

Today Mandi Bhav

View More Agriculture Tips

सोयाबीन में पत्ती खाने वाली इल्ली का प्रबंधन!

3.27 K

4 minutes ago

भिंडी की फसल की बढ़वार व अच्छे विकास के लिए पोषक तत्व

6.01 K

31 minutes ago

चिपचिपे जाल को फ़सल के चारों ओर लगाने से फायदे!

5.38 K

36 minutes ago

दूध उत्पादन हेतु अजोला चारा

4.73 K

46 minutes ago

भिंडी में फूलों की मात्रा ऐसे बढ़ाएं

4.47 K

52 minutes ago

नवीनतम फसल कवर तकनीक क्या हैं?

2.74 K

58 minutes ago

अब एक दिन में बेच सकेंगे किसान उड़द और मूंग !

2.48 K

an hour ago

लौकी की फसल में रस चूसक का प्रकोप!

4.03 K

an hour ago

लहसुन की फ़सल में निराई गुड़ाई तथा खरपतवार के नियंत्रण!

10 K

2 hours ago

पुराने समय ओर आज के समय मे खेती करने मे कितना बदलाव आया है ?

1.47 K

2 hours ago

अमेरिका की तर्ज पर खेती केसे करे ?

941

2 hours ago

अमेरिका मे फसल केसे बेची जाती है ?

1.54 K

2 hours ago

मैं प्राकृतिक तरीकों का उपयोग करके मिट्टी की स्थिति कैसे सुधार सकता हूँ?

1 K

2 hours ago

लहसुन की फसल में खाद एवं उर्वरकों का प्रबंधन!

11.37 K

2 hours ago

मल्चिंग तकनीक से खेती करने का फायदा

2.6 K

3 hours ago

सोयाबीन की फसल में तम्बाखू इल्ली का रोकथाम !

4.89 K

3 hours ago

प्याज में कंदों के अच्छे विकास के लिए ये उपाय करें!

31.84 K

3 hours ago

क्या किसानों के लिए गुजरात में कोई ट्रैक्टर लोन योजना है?

1.21 K

4 hours ago

क्या खेती मे ड्रोन का उपयोज लाभकारी है ?

872

4 hours ago

किस तरह की खेती करके ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है ?

1.76 K

4 hours ago

मुझे अपनी मिर्च को कितना पानी देना चाहिए?

1.82 K

4 hours ago

मूंग के पत्ते काले हो रहे हैं क्या कारण है ?

3.95 K

4 hours ago

चने की दो नई क़िस्मों से अब होगा किसानों का फायदा ही फायदा !

2.4 K

4 hours ago

कसुरी मेथी क्या है, स्वास्थ्य के लिए इसका उपयोग

2.44 K

4 hours ago

संतरे के फूल गिरने से केसे बचाए

1.27 K

4 hours ago

प्याज में सल्फर का महत्व!

11.9 K

4 hours ago

अमरूद ( जामफल ) में फल मक्खी का नियंत्रण

3.56 K

4 hours ago

प्याज में उर्वरक प्रबंधन

4.88 K

4 hours ago

संतरा में अधिक उत्पादन के लिए

5.41 K

4 hours ago

संतरे पिले होकर गिर रहे है ?

3.54 K

4 hours ago